Friday, April 23, 2010

पूरे….पचास साल

शर्मा जी: यार!…ये दिल्ली का पानी बड़ा खराब है…

वर्मा जी: क्यों?…क्या हुआ?

शर्मा जी:यहाँ पाल्यूशन और गन्दगी इतनी ज्यादा है कि आदमी वक्त से पहले ही बूढा नज़र आने लगता है….

वर्मा जी: जी!…ये बात तो है

शर्मा जी:अभी सिर्फ दो साल ही हुए हैं मुझे दिल्ली में आ के बसे हुए और देखो…मेरे सारे के सारे बाल सफ़ेद होते जा रहे हैं…

वर्मा जी:ओह!…वैसे अभी आपकी उम्र कितनी है?

शर्मा जी:पूरे….पचास साल

7 comments:

विनोद कुमार पांडेय said...

वाह भाई पचास साल के हो गये फिर भी जवान ही रहेंगे...बढ़िया मजेदार वाक़या...धन्यवाद राजीव जी

बेचैन आत्मा said...

क्या दिल्ली आने से पहले सभी काले थे!

बेचैन आत्मा said...

मैं नहीं वर्मा जी पूछ रहे हैं...

Udan Tashtari said...

ये तो कोई ज्यादा उम्र न कहलाई.. :) मियां जवान ही हैं..

M VERMA said...

मेरे ऊपर कहानी लिख दी और मुझे पता ही नहीं चला

हा हा
मजेदार

खुशदीप सहगल said...

अब समझ आया अपने बालों के बेवक्त पकने का राज़...

जय हिंद...

जाट देवता (संदीप पवाँर) said...

शुभ दीपावली

Post a Comment

Followers